Are You Looking for Astrology Guidance -------------------->
पति पत्नी के रिश्ते में सुधार के लिए ज्योतिष उपचार

पति पत्नी के रिश्ते में सुधार के लिए ज्योतिष उपचार

हर कोई अपने पारिवारिक जीवन में खुशी और संतुष्टी चाहता है| शादीशुदा जोड़े की खुशी उन के बीच का प्यार और स्नेह पर आधारित है| जब यह प्यार प्रभावित होना शुरू होता है, तब यह उनके रिश्ते को ही नहीं परेशान करता है, बल्कि उनकी व्यक्तिगत निर्भरता, उनके पेशेवर और सामाजिक जीवनको भी करता है|

इसलिए, जब भी मुद्दे और मतभेद पति और पत्नी के बीचकी निकटतामें हस्तक्षेप करना शुरूकरे, तब शादीशुदा जोड़े एक दूसरे पर आरोप लगाने के बजाय अपने मुद्दोंपर ज्यादा ध्यान दें | उन्हें अपने प्रयासों के साथ साथ ज्योतिषीय समाधान का भी उपयोग करना चाहिए, जिससे वे जल्द ही अपने सभी कठिनाइयों को दूर करने में सक्षम हो पायें |

पति और पत्नी के बीच विवादों का समाधान करने के लिए कुछ ज्योतिषीय उपचार |

अगरशादी शुदा जोड़े के बीच कुछ मुद्दे और संघर्ष हैं, तब उन्हें इस की सुरक्षा के लिए “Trayashari Mahamrityunjaya मंत्र” का जाप करना चाहिए | यह मंत्र हिन्दी में इस प्रकार है:

ऊँ हौं जूं : अथवा ऊँ जूं 

और

ऊँ नम: शिवाय”! 

व्यक्ति दो मंत्रों में से किसी एक का जाप शुक्ल पक्ष के प्रथम सोमवार को कर सकता है | यह मंत्र भगवान शिव के लिए है, और अधिमानतः एक मंदिर में बोलाना होता है| हालां कि,जब आप शिव मंदिर में मंत्र का जाप करने में सक्षम नहीं हैं, तब आप अकेले में भी यह मंत्र जाप कर सकते हैं, यह घर पर भी किया जा सकता है, लेकिन वहां जहां की आप ध्यान केंद्रित कर सकते हों, और जहां कम से कम अवरोध हो | आप के पति अगर आप के साथ यह मंत्र उच्चारण करें तो यह ज्यादा उपयोगी साबित होगा | यह महत्वपूर्ण  है कि इस मंत्रको कम से कम 21 दिनों के लिए जाप किया जाए |

प्यार में सुधार और संबंधों को मजबूत करने के लिए ज्योतिषीय उपचार

अगर पति और पत्नी के रिस्तो मे प्यार, रोमांस और स्नेह में असर पड़ा है, तो यह ग्रहों के उपर अशुभ प्रभाव और 7वा घर और इसके मालिक पर संकट के कारण से हो सकता है | 4था घर आराम और परिवारिक शांति का घर है, 4था घर और 4था घर का मालिक पर अशुभ प्रभाव  के समय  पति और पत्नी  एक दूसरे की बुरी आदतों को महत्व देते हैं, और अच्छे बातों की अनदेखी करना शुरू करते हैं | यह निश्चित रूप से एक खुश हाल शादी के लिए अच्छा संकेत नहीं है, क्योंकि जब भी ऐसी परिस्थिति शादी में होता है, तो यह आगे जा कर विवादों को जन्म देती है |

किसी भी कुंडली के 7 वें घर में राहु वैवाहिक जीवन में समस्याओं को जन्म दे सकता है| अगर     आपके कुंडली के 7वें का मालिक  6वें ,8 वें और 12 वें घर में हैं और 7वें घर और 7वें का मालिक के लिए कोई शुभ दृष्टि भी नहीं है, तब बाहरी हस्तक्षेप आप के वैवाहिक जीवन में अशांति का कारण हो सकता है| अगर विवाहित जीवन में समस्या है तब यह देखना महत्वपूर्ण है कि कौन सा ग्रह अशांति पैदा कर रहा है, और इसके उपरांत उपयुक्त उपाय अपनाना पड़ता है|

प्रार्थनायें काफी चीजों को बदल सकते हैं, और वैदिक उपचार हानिकर ग्रहों से राहत दिलाने में बहुत उपयोगी हैं| अगर पति- पत्नी के रिश्ते में लगाव, प्यार, स्नेह और सरगर्मी नहीं है, तो इस प्रकार वापस जीवन में प्यार और रोमांस लाने के लिए उचित उपाय करना जरूरी है|

अपने प्रेम संबंधों को मजबूत करने के लिए मंत्र:

(ॐ महायक्षिणी पति मेम वश्यम कुरु कुरु स्वाहा)

एक दूसरे के बीच स्नेह को बढ़ावा देने के लिए उपरोक्त मंत्र का प्रयोग इस के नियमानुसार दीपावली की रात या  ग्रहण (सूर्या और चंद्र दोनों) के दौरान करना होगा |

एक और उपाय जो कि  आराम  से कर सकते हैं कि गौरी शंकर रूद्राक्ष पहनें, एक ही तरह का रूद्राक्ष पहन ने से पसंद और वासना में वृद्धि होती है|

अंततः, यह सलाह है कि लेख में उल्लेख सभी उपयोगी उपचार पूरी निष्ठा, शुद्ध मन और विश्वास के साथ करें, तभी उचित परिणाम प्राप्त होंगे |

free-astrology-forum

Comments

comments

About Navneet Khanna

Astrologer Navneet Khanna, is a former World Bank & SIDA consultant, he has held many prestigious projects in India and Africa before settling down in his native place, near Chandigarh and following his passion in Vedic Astrology. Navneet is very scientific and logical in his Predictions. He reasons his predictions because of which he has a worldwide following and people from many countries solve their problems with his help. He is an expert in Marriage and Love Relationship. In Marriage Matching he does analysis of Guna Milan and also Grah Milan (Matching of the Planets) and will tell you effects and remedies of Nadi Dosha, Bhakoot Dosha & Gana Dosha if present. He is an Expert Astrologer on Many Indian & Foreign Websites like myastrologysigns.com and a frequent writer for many national and international websites and magazines. Navneet believes that Vedic Astrology is a vast subject, it is an ocean of knowledge and wisdom. It is simply up to the individual to jump into the ocean and extract the pearls. With his vast experience on occult subjects he has been associated with leading astrologers in India to promote astrology. Navneet Khanna believes that the energy and inspiration behind him is the Blessings of the Almighty. You may contact him on his number 0091-9417884861 .

3 comments

  1. मेरा कोई काम सफल नहीँ हो रहा हे

  2. is mantra ka prayog sirf deepawali k rat karna hai ya diwali k raat se shuru karna hai?
    agar diwali se shuru karna hai to kab tak k liye karna hai? kripya batae

    • I am Tarun Saxena(DOB 16 Sep 1985, 19:10), got recently married(25th Jan 2015) to Ila Saxena(DOB 09 Jul 1986 20:27), for both birth place is Bareilly (UP).

      We are not at all happy with our married life and there are lots of fights almost every day.

      During kundali match it was deduced that there were 26 Guna match and thats why marriage was established but after marriage we find out that there is no match between us.

      We are far apart in terms of thinking/mental level.

      we are no where in terms of match.

      Can you advise what we can do to bring happiness in our life?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Free WordPress Themes - Download High-quality Templates